पिस्ता खाने के फायदे और नुकसान,Advantages and disadvantages of eating pistachios

Advantages and disadvantages of eating pistachios

Advantages and disadvantages of eating pistachios

Table of Contents

 Advantages and disadvantages of eating pistachios

आज की ब्लॉग पोस्ट में आप सभी का स्वागत है। इस पोस्ट में हम जानेंगे पिस्ता के बारे में पिस्ता एक ड्राई फ्रूट है जो बहुत से विटामिनों से भरपूर है।यह हमें बहुत से फायदे देता है । लेकिन इसे खाने से जितने हमें फायदे हैं, उतने ही नुकसान भी होते हैं, आई इस पोस्ट में हम इसके फायदे और नुकसानों के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त करें ।

 फायदे 

1.पोषण से भरपूर:पिस्ता में विटामिन, मिनरल्स और एंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं। इनमें विटामिन B6, थायमिन, फोलेट, और विटामिन E होता है, जो स्वास्थ्य के लिए आवश्यक हैं। इसके अलावा, इसमें पोटैशियम, मैग्नीशियम और फॉस्फोरस भी पाया जाता है।

ओर देखे:पिस्ताखान के फायदे

2.हृदय स्वास्थ्य:पिस्ता में उच्च मात्रा में मोनोअनसैचुरेटेड और पॉलीअनसैचुरेटेड फैट्स होते हैं, और साथी कुछ मात्रा ओमेगा 3 फैटी एसिड की होती है जो खराब कोलेस्ट्रॉल (LDL) को कम करने में मदद करते हैं और अच्छे कोलेस्ट्रॉल (HDL) के स्तर को बढ़ाते हैं। यह हृदय रोगों के जोखिम को कम कर सकता है।

3.वजन नियंत्रण:पिस्ता में उच्च मात्रा में फाइबर और प्रोटीन होता है, जो लंबे समय तक पेट भरा हुआ महसूस कराता है। यह अनावश्यक खाने से रोकता है और वजन नियंत्रण में मदद करता है।

Read more:5 weight loss tips that are for you

4.ब्लड शुगर नियंत्रित: पिस्ता के सेवन से रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। इसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम होती है और फाइबर की मात्रा अधिक होती है, जो ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में सहायक है।

5.आँखों के लिए लाभकारी: पिस्ता में ल्यूटिन और ज़ीएक्सैंथिन होते हैं, जो आंखों के स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण हैं। ये एंटीऑक्सिडेंट्स आंखों को हानिकारक यूवी किरणों से बचाते हैं और उम्र से संबंधित आंखों की समस्याओं को कम करने में मदद करते हैं।

6.पाचन स्वास्थ्य: पिस्ता में फाइबर की अच्छी मात्रा होती है, जो पाचन तंत्र को अच्छा बनाए रखने में मदद करती है। यह कब्ज और अन्य पाचन संबंधीत समस्याओं को रोकने में सहायक है।

7.रोग प्रतिरोधक क्षमता: पिस्ता में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट्स और विटामिन E रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं, जिससे शरीर बीमारियों से लड़ने में सक्षम होता है।

8.त्वचा स्वास्थ्य: पिस्ता में विटामिन E की उच्च मात्रा होती है, जो त्वचा को स्वस्थ और चमकदार बनाए रखने में मदद करती है। यह उम्र के लक्षणों को कम करने में भी सहायक है।

9.खून की कमी दूर करे: पिस्ता में आयरन की अच्छी मात्रा होती है और आयरन हीमोग्लोबिन बढ़ाने मे मदद करता है इसलिए जिन लोगों को हीमोग्लोबिन या खून की कमी की समस्या होती है। वह लोग अगर अपनी रोजाना की डाइट में पिस्ता शामिल करते हैं तो उनकी यह समस्या काफी हद तक कम हो सकती है

पिस्ता खाने के नुकसान:

1.उच्च कैलोरी: पिस्ता में उच्च कैलोरी होती है, इसलिए इसका अत्यधिक सेवन वजन बढ़ा सकता है। यदि आप वजन घटाने की योजना बना रहे हैं, तो इसका सेवन सीमित मात्रा में करें।

2.एलर्जी: कुछ लोगों को नट्स से एलर्जी हो सकती है, जिसमें पिस्ता भी शामिल है। यदि आपको नट्स से एलर्जी है, तो पिस्ता का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह लें।

3.सोडियम की मात्रा: यदि आप नमक वाला पिस्ता खा रहे हैं, तो उसमें उच्च मात्रा में सोडियम हो सकता है। अधिक सोडियम का सेवन उच्च रक्तचाप और हृदय रोगों का कारण बन सकता है।

4.पाचन समस्याएं: अधिक मात्रा में पिस्ता खाने से पाचन समस्याएं हो सकती हैं, जैसे कि पेट में दर्द, गैस, और दस्त। इसे संतुलित मात्रा में ही खाएं।

5.कीटनाशक अवशेष: कुछ पिस्ता में कीटनाशक अवशेष हो सकते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकते हैं। इसलिए, ऑर्गेनिक पिस्ता का चयन करना बेहतर होता है।

निष्कर्ष:पिस्ता का सेवन संतुलित मात्रा में किया जाए तो यह स्वास्थ्य के लिए अत्यधिक लाभकारी हो सकता है। यह हृदय स्वास्थ्य, वजन नियंत्रण, आंखों के लिए लाभकारी, और प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। हालांकि, इसका अत्यधिक सेवन नुकसानदायक हो सकता है, इसलिए इसे संतुलित आहार में शामिल करें और किसी भी प्रकार की एलर्जी या स्वास्थ्य समस्या होने पर डॉक्टर से सलाह लें। 

FAQ

1.पिस्ता कब नहीं खाना चाहिए?

किडनी की समस्या से ग्रस्त व्यक्ति को पिस्ता नहीं खाना चाहिए। पिस्ता में ऑक्सालेट नामक कंपाउंड ज्यादा होता है और इसमें कुछ मात्रा प्रोटीन की भी होती है जो कमजोर लोगों में किडनी की पथरी का खतरा बढ़ा सकता है। जिन लोगों को कभी किडनी में पथरी की समस्या रही है, उन्हें भी पिस्ता अवॉइड करना चाहिए।

2.पिस्ता 1 दिन में कितना खाना चाहिए?

पिस्ता खाने में स्वादिष्ट होता है साथ ही इसमें बहुत से न्यूट्रिएंट्स भी होते हैं लेकिन अगर इसे ज्यादा मात्रा में खाएं तो यह फायदे के साथ-साथ नुकसान भी देते हैं इसलिए एक दिन में 15 से 20 ग्राम ही पिस्ता खाना चाहिए

3.पिस्ता का तासीर क्या है

पिस्ता की तासीर गर्म होती है जिससे सर्दियों में खाना सबसे अच्छा माना जाता है साथ यह बहुत से न्यूट्रिएंट का खजाना भी है।

4.पिस्ता खाने से कौन सी बीमारी दूर होती है?

पिस्ता में भरपूर मात्रा में आयरन होता है जिसकी वजह से यह एनीमिया की बीमारीको यानी जिनलोगों में खूनकी कमी होती है उसे परेशानीको ठीक करने मददगार होता है साथी एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने की वजह से यह बीमारियों से लड़ने की क्षमता को भी बढ़ता है। 

5.नमकीन पिस्ता में कितना प्रोटीन होता है?

ड्राईफ्रूट्स में भी पिस्ता एक ऐसा ड्राईफ्रूट है जो बॉडी को गर्म रखने में बेहद असरदार साबित होता है। 100 ग्राम पिस्ता में मौजूद पोषक तत्वों की बात करें तो इसमें प्रोटीन-20.16 g,फैट-45.32 g, कार्बोहाइड्रेट-27.17 g

 

Leave a comment